सब का हिंदुस्तान है हिंदी कविता अवश्य पढ़ें | FuseBulbs Hindi Poem
यह सब का हिंदुस्तान है

यह सब का हिंदुस्तान है |

पढ़ना लिखना बिना लक्ष्य के
दौड़ लगाना बिना लक्ष्य के ,
मात्र निरर्थक ज्ञान है
यह सब का हिंदुस्तान है|

निराधार ज्यामिति कब फलती
गलत सोच नित करती गलती ,
हार जीत कैसा अनुमान है
यह सब का हिंदुस्तान है |

जनता है सब जानती है
सही नेता पहचानती है ,
खींचतान में चादर फटती
उठापटक बेजान है
यह सब का हिंदुस्तान है|

नियम कानूनबहुमत के हवाले
दलगत नीति हो निजी हवाले,
न्यायपालिका अगर झुके ना
लग जाए कूटनीति पर ताले
जड़ी भूत अभिमान है
यह सब का हिंदुस्तान है|

दिलो को दिलो से मिला कर के देखो|

देख परख कर सदा चलो जी
ऊंच-नीच पथ कदम संभालो ,
हर पल धोखे और फरेब हैं
पथ के इरादे निशदिन पालो ,
राजनीति में ईमान है
यह सब का हिंदुस्तान है|

यह सब का हिंदुस्तान है|

पूर्णेन्दु कुमार श्रीवास्तव

वरिष्ठ कार्यपालक,लेखक

By ANISH SINGH

IT Analyst at Tata Consultancy Services. Follow @aniluvall

4 thoughts on “यह सब का हिंदुस्तान है”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *