Hindi Poem Archives - FuseBulbs

Hindi Poem

हिंदी कविता,Hindi Kavita, kavya,Hindi poems

कमाने लगा

कमाने लगा- हिंदी कविता / Hindi Poem अच्छा हुआ कमाने लगा,रिश्तेदार, दोस्त का खबर भी आने लगा।रुख हवा का ऐसा बदला,बेरोजगार…

भारतीय रेल

भारतीय रेल- हिंदी कविता हरी झंडी देख दौड़ लगाती,लाल देख रुक जाती हूछुक – छुक करते आती हू,मंजिल तक पहुँचाती हू।…